मुकेश अंबानी ने छोटे भाई अनिल का 550 करोड़ का कर्जा चुका उसे जेल जाने से बचाया

जयपुर. अनिल धीरूभाई अंबानी समूह के प्रमुख अनिल अंबानी पिछले दिनों संकट में थे. उन पर एक दूसरी कंपनी का बकाया था और वो इस मामले में जेल तक जा सकते थे, लेकिन उनके भाई मुकेश अंबानी ने उन्हें जेल जाने से बचा लिया. इसके बाद अनिल ने बड़े भाई मुकेश अंबानी और भाभी नीता को शुक्रिया कहा.

दरअसल, अनिल अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस कम्युनिकेशंस पर दूरसंचार उपकरण बनाने वाली स्वीडन की कंपनी एरिक्सन के करीब 550 करोड़ रुपये बकाया थे. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक अनिल को मंगलवार तक एरिक्सन का बकाया चुकाना था. ऐसा नहीं होने पर उन्हें न्यायालय की मानहानि के मामले में जेल जाना पड़ता. लेकिन ऐसी संकट की घड़ी में अनिल के भाई मुकेश ने उनका साथ दिया. मुकेश अंबानी ने अनिल अंबानी को सहारा देते हुए एरिक्सन के 550 करोड़ रुपये के बकाए के भुगतान में मदद की, जिससे वो जेल जाने से बच गए.
स्वीडन की कंपनी एरिक्सन के मामले में अनिल के साथ रिलायंस कम्युनिकेशंस की दो इकाइयों के चेयरमैन छाया विरानी और सतीश सेठ पर जेल जाने का खतरा मंडरा रहा था. मुसीबत के वक्त मिल जाने पर अनिल अंबानी ने अपने बड़े भाई मुकेश अंबानी और भाभी नीता अंबानी को धन्यवाद दिया.
रिलायंस कम्युनिकेशंस ने अनिल के हवाले से एक बयान में बताया कि अनिल अंबानी ने अपने आदरणीय बड़े भाई मुकेश और भाभी नीता के इस मुश्किल वक्त में साथ खड़े रहने और मदद करने पर तहेदिल से शुक्रिया अदा किया है. उन्होंने बताया कि अनिल अंबानी ने कहा है कि समय पर ये मदद करके उन्होंने परिवार के मजबूत मूल्यों और परिवार के महत्व को रेखांकित किया है. हम पुरानी बातों को पीछे छोड़ कर आगे बढ़ चुके हैं और बड़े भाई मुकेश  के इस व्यवहार ने अंदर तक प्रभावित किया है. साथ ही कंपनी के बयान में कहा गया है कि रिलायंस कम्युनिकेशंस ने एरिक्सन का 550 करोड़ रुपये और उसके ब्याज का पूरा भुगतान कर दिया है.

Leave your vote

0 points
Upvote Downvote

Total votes: 0

Upvotes: 0

Upvotes percentage: 0.000000%

Downvotes: 0

Downvotes percentage: 0.000000%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *